shayari on Rajneeti | Rajniti ki shayari

by HARNEET KAUR (Ishq Kalam)
Rajneeti shayari

Shayari on rajneeti

 

Lastest Sayari on Rajneeti 2021 with images in hindi | rajniti ki sharyari in hindi font |quotes on rajneeti in hindi download with images | सत्ता के लालच पर शायरी

Shayari on rajneeti

shayari on Rajneet

हम भी खामोश रहे तो लब खोलेगा कौन 
इस जालिम हुकूमत के खिलाफ बोलेगा कौन 
यहां मज़लूमो को सताया जाता है 
सत्ता के लालच में बेकसूरों का घर जलाया जाता है।

 

                                           जो कल तक हिफाजत की बात करता था 

                                            आज वही गायब हो गया,गरीब मर रहे हैं रोड पर

                                         और वह चुनाव में फेंकने वाला शायर हो गया।

Shayari on rajneeti images

shayari on Rajneet
गरीबों की बस्ती चलाने वाले
अब रहबर कहलातेे हैं
जो खून के प्यासे है
उनको मसीहा बनाते हैं
दुनिया में अब जीना मुहाल हो गया
जुल्म का राज और इंसाफ खाक हो गया
यहां बिकते हैं रहबर अब तवायफ के भाव में सत्ता करने वालों में भी अब कहां इंसाफ हो गया।

Rajneeti Shayari in hindi

shayari on Rajneet
खाली हाथ आए थे, खाली हाथ जाएंगे
मज़लूमो पर जुल्म करने वाले
खुदा को क्या मुंह दिखाएंगे
इन पर जब कयामत में खुदा का इंसाफ होगा
ये जालिम खुदा से भी ना इंसाफ पाएंगे
जीते जी भी यह गरीब की बद्दुआ पाएंगे
मरने के बाद भी यह जहन्नम की आग में जलाये जाएंगे।
सत्ता की लालच में क्या काम कर डाला
बेरोजगारी,भुखमरी आम कर डाला
अब तो लगता है वापस गए अच्छे दिन के सपने
56 इंच वाले ने अपने जुल्मों से देश को बर्बाद कर डाला।

rajneeti par shayari

shayari on Rajneet

भूख की तड़प कोई जानता नहीं
इंसान कौन है
दोलत के आगे अब
कोई पहचानता नहीं
अजीब मखलूक है
ये जमाने में सिर्फ एक कफ़न साथ जाता है
ये देख कर भी जिंदगी की कीमत कोई पहचानता नहीं।
                                         अब सियासत भी हिंदू मुसलमान हो गए
                                         देश को बचाने वाले ही अब देश के गद्दार हो गए
                                            वादा था जुल्म को मिटाने का पर
                                  अब तो सत्ता की कुर्सी पर भी जालिमों का राज हो गया।
read and share all new shayari on different topic….. click  

You may also like

Leave a Comment